http://www.clocklink.com/world_clock.php

Saturday, November 24, 2012

ों से वो भी यही प्रकिर्या अपना रहे थे, की शायद बाहर से ही बात बन जाये! लेकिन अपने अनुभवों के आधार पर उन्होंने एक सही निर्णय लिया की राजीनीति को समझने जानने की लिए राजनीती करना जरुरी है और राजनीति करने के लिए उस दलदल में उतरना जरुरी है! कई लोगो को लगा की केजरीवाल जी का असली मकसद यही था!

एक क्लास वन रैंक का अफसर लाखों रूपये तनखा, वाइफ भी शायद उसी रैंक की अफसर अच्छी तनखा, किस चीज की कमी इन लोगो को! फिर भी लगे हुए हैं गरीबों के लिए आम आदमी के लिए! इस तरह के आदमी का क्या स्वार्थ हो सकता है, जो अपनी भरी पूरी जिन्दगी को दाव पर लगा कर आम लोगो की समस्या को ढूंढने और हल करने निकल पड़ा! लेकिन इस इंसान ने जब जिद्द ठान ही ली की ऐसा ही करना है! तो लोगो को पता नही इसमें क्या स्वार्थ नजर आ रहा है! अगला भला मानस एक कोशिश तो कर ही रहा है की कीचड़ में सुगन्धित कमल खिल जाये! बुराई क्या है इसमें! बजाये इसके की हम उस शख्श की तारीफ करे, साथ दे और उसके आम आदमी के हित के लिए किये जा रहे इस अश्वंमेघ यज्ञ में अपनी भी एक आहुति दे, हम उल्टा उसको ही शक की नजरों से देख रहे हैं! अगर आप इतना भी नही कर सकते तो कम से कम उसके द्वारा किये जा रहे प्रयासों का मखौल तो न बनाये! अगला इंसान एक कोशिश कर रहा है, कितना कामयाब होता हे ये वक़्त की बात है! लेकिन एक सार्थक कोशिश तो जारी है न! वो भी हम सब के लिए!

केजरीवाल और उनकी टीम ने कई खुलासे किये! लोगो को सच्चाई पता लगी! की किस तरह ये व्यवस्था नेता और नौकरशाही इस देश को लूट रहे हैं! वो भी मय सबूत के! बरना हम सब कयास ही लगाते रहते थे की भ्रष्टाचार हो रहा हे ये है वो है! लोगबाग कहते हैं की इनके द्वारा किये गए खुलासों पर आज तक कुछ नही हुआ! सब ज्यूँ का त्यूं ही है! मैं ये कहना चाहता हूँ की जिस हवेली के दरवाजे सदिओं से खुले ही न हो उसकी सफाई-गंदगी मिटने के लिए बहुत वक़्त लगता है और गंदगी साफ़ करने के लिए गंदगी में उतरना पड़ता है! ये बात तो टीम केजरीवाल भी कह रही है! की सारा सिस्टम और ताकत सरकार के कब्जे में है! कोई कुछ कैसे कर सकता है! उसी के लिए इस राजनीति में उतरना एक मात्र उपाए है!

Blog parivaar

17 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

अब गन्दगी में खलबली मची है..

kshama said...

Pata nahee baat banegee ya nahee...khair koyi koshish to kar raha hai!

धीरेन्द्र सिंह भदौरिया said...

गंदगी साफ़ करने के लिए गंदगी में उतरना पड़ता है
मै इस बात को नही मानता,क्योकि पहली बार कोई नेता राजनीति में आता है पाक साफ़ रहता है,
५ साल बाद वही ढाक के तीन,,,,

recent post : प्यार न भूले,,,

Kulwant Happy "Unique Man" said...

सार्थक पोस्‍ट। आपके विचार पढ़कर अच्‍छा लगा।

Khare A said...

thnx Friends! lets Time decide It!
but we shoudl be positive! otherwise
sitting idle is not the option!

Khare A said...

भदौरिया साहब शुक्रिया , आपने यह तो माना की राजनीती
किस कद्र गंदगी से भरी हुयी है, लेकिन यह भी एक सच है \
की ये व्यवस्था सबसे ताकतवर व्यवस्था है हमारे देश की!
कुछ तो भेदन करना होगा!

अरूण साथी said...

satik

राकेश कौशिक said...

"गंदगी साफ़ करने के लिए गंदगी में उतरना पड़ता है" और कोई रास्ता ही नहीं दिखाई देता - सही और सार्थक प्रस्तुति

Khare A said...

shukriya Arun Sathi ji!
shukriya Rakesh kaushik ji!

samrthan ke liey abhaar aap ka!

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार said...



♥(¯`'•.¸(¯`•*♥♥*•¯)¸.•'´¯)♥
♥नव वर्ष मंगबलमय हो !♥
♥(_¸.•'´(_•*♥♥*•_)`'• .¸_)♥




गंदगी साफ़ करने के लिए गंदगी में उतरना पड़ता है
बिलकुल सही बात है !
आदरणीय अलोक खरे जी
संतुलित आलेख के लिए आभार !


आपकी लेखनी से सदैव सुंदर , सार्थक , श्रेष्ठ सृजन हो , इसी कामना के साथ …
नव वर्ष की शुभकामनाओं सहित…
राजेन्द्र स्वर्णकार
◄▼▲▼▲▼▲▼▲▼▲▼▲▼▲▼▲▼▲▼►

Anonymous said...

This paragraph gives clear idea in support of the new visitors of blogging, that actually how to do blogging.


Stop by my web page - buying a car
Stop by my blog ... buying a car with bad credit,buy a car with bad credit,how to buy a car with bad credit,buying a car,buy a car,how to buy a car

Anonymous said...

Hey I know this is off topic but I was wondering if you knew of any widgets I could add to my blog
that automatically tweet my newest twitter updates.
I've been looking for a plug-in like this for quite some time and was hoping maybe you would have some experience with something like this. Please let me know if you run into anything. I truly enjoy reading your blog and I look forward to your new updates.

Feel free to visit my webpage ... how to buy a car

Anonymous said...

I quite like looking through an article that can make men and women think.

Also, many thanks for permitting me to comment!

my web site - how to buy a car with bad credit

Anonymous said...

BESΤ REGULΑR-PRODUCTION VERSӀONS Super Sport with optional 396-ci big-bloсk V8, оr Z-28.
They aгe not perfеct in the art of humаn relations.
It can do lots of cars,but to detаil cаr compatible list,thегe іs a fіle on
our wеbsite oг you сan contact ouг сustomeг ѕervice.


Herе is my blog post; buying a car with bad credit
my website - buy a car with bad credit

Anonymous said...

Pretty great post. I just stumbled upon your weblog and wanted
to say that I have truly enjoyed browsing your blog
posts. After all I will be subscribing for
your feed and I am hoping you write again very soon!

Here is my web site pregnancyhelper.in

Anonymous said...

I needed to thank you for this good read!! I certainly loved every bit of it.
I have you book marked to check out new things you post…

Feel free to surf to my blog ... lloyds pharmacy

Anonymous said...

An outstanding share! I've just forwarded this onto a friend who was doing a little homework on this. And he in fact bought me breakfast because I found it for him... lol. So let me reword this.... Thank YOU for the meal!! But yeah, thanks for spending time to discuss this issue here on your site.

my web blog :: how to get pregnant fast